Press "Enter" to skip to content

 ‘रघु भाई’ की एंट्री प्रॉपर्टी डीलर फैमिली सुसाइड में। नोट में हिसाब लिखा- 20-20 हजार देना है दो को व 4 लाख एक को / #ग्वालियर

ग्वालियर

मृतक प्रॉपर्टी डीलर जीतू और उसकी पत्नी व बेटा।

ग्वालियर में प्रॉपर्टी डीलर, प्रिंसिपल पत्नी समेत बेटे की सामूहिक खुदकुशी में नया मोड़ आ गया है। सुसाइड नोट में किसी ‘रघु भाई’ की एंट्री हुई है। पुलिस ने जब नोट को पलटकर देखा, तो पीछे कुछ हिसाब-किताब लिखा है।

इसमें लिखा है कि रघु भाई डुप्लेक्स में से 4 लाख रुपए उसे (नाम का खुलासा नहीं किया) देना है। इसके साथ ही दो अन्य लोगों को 20-20 हजार रुपए देना लिखा है।

अब पुलिस रघु भाई का पता लगा रही है। साथ ही, डुप्लेक्स का क्या हिसाब है, यह भी पता लगा रही है।

प्रॉपर्टी डीलर जीतू उर्फ जितेंद्र झा (50), पत्नी त्रिवेणी झा (47) और बेटा अचल झा (17) के शव रविवार सुबह उनके मकान में फांसी पर मिले थे। त्रिवेणी आर्मी स्कूल की ऑफिशियल ब्रांच शाहबाज स्कूल में प्रिंसिपल थीं। पुलिस का शुरुआती जांच में मानना है कि परिवार ने सुसाइड किया है।

पुलिस की तीन अलग-अलग टीम संदेही देवेंद्र पाठक के ठिकानों पर भी दबिश दे रही हैं। एक टीम उसके गांव भटपुरा, दूसरी सिरोल स्थित ठिकाना और तीसरी टीम ताजा लोकेशन पर नजर रखे है।

त्रिवेणी आर्मी स्कूल की ऑफिशियल ब्रांच शाहबाज स्कूल में प्रिंसिपल थीं। पति जितेंद्र झा प्रॉपर्टी डीलर थे। बेटा अचल 12वीं का छात्र था।

त्रिवेणी आर्मी स्कूल की ऑफिशियल ब्रांच शाहबाज स्कूल में प्रिंसिपल थीं। पति जितेंद्र झा प्रॉपर्टी डीलर थे। बेटा अचल 12वीं का छात्र था।

स्पॉट से मिले मोबाइल में छुपा राज

पुलिस को आशंका है कि प्रॉपर्टी डीलर के बेटे शिवा उर्फ अचल झा को उसके पिता का पार्टनर देवेंद्र पाठक उर्फ बैटल परेशान करता था। निश्चित तौर पर मोबाइल में कुछ न कुछ मैसेज, रिकॉर्डिंग, वाटसएप मैसेज होंगे।

पुलिस इन मैसेज व वाट्सएप चैट को रिकवर करने का प्रयास कर रही है, जिससे पता लगाया जा सके कि आखिरकार प्रॉपर्टी डीलर के बेटे और पार्टनर के बीच ऐसा क्या राज था, जिसके कारण परिवार खत्म हो गया। उस राज का जिक्र तक परिवार सुसाइड नोट में नहीं कर सका।

हैंड राइटिंग की जांच भी हो रही

प्रॉपर्टी डीलर के भाई ललित झा ने इसे हत्या बताया है। उनका कहना है कि उनका भाई इतना कमजोर नहीं था। उन्होंने घर में एक ग्रिल उखड़ी और फनर, हथौड़ा जैसा सामान मिलने की बात कही है। पुलिस इसकी भी जांच कर रही है। पुलिस ने सुसाइड नोट की हैंड राइटिंग की भी जांच शुरू कर दी है।

डॉक्टर बोले- हैंगिंग से ही हुई मौत

प्रॉपर्टी डीलर जितेंद्र झा, उसकी पत्नी त्रिवेणी झा, बेटा अचल झा के शवों का पोस्टमॉर्टम रविवार शाम को ही हो गया था। पीएम तीन डॉक्टर के पैनल से कराया गया है। पुलिस को डॉक्टरों ने मौत का कारण हैंगिंग ही बताया है। पोस्टमॉर्टम से 48 घंटे पहले मौत होने की बात सामने आ रही है।

परिजन ने सोमवार दोपहर हत्या का मामला दर्ज करने आरोपी की गिरफ्तारी की मांग को लेकर जाम लगाया था।

परिजन ने सोमवार दोपहर हत्या का मामला दर्ज करने आरोपी की गिरफ्तारी की मांग को लेकर जाम लगाया था।

परिजन ने जाम लगाकर आरोपी का मकान तोड़ने की मांग की

रविवार शाम को पोस्टमॉर्टम के बाद परिजन रातभर शवों को रखे रहे। सोमवार दोपहर करीब 12 बजे मुरार बारादरी चौराहा पर तीनों शव रखकर चक्काजाम किया था। परिजन की मांग थी कि यह खुदकुशी नहीं है, इसे हत्या मानकर जांच की जाए। आरोपी देवेंद्र पाठक को तत्काल गिरफ्तार कर उसके मकान को तोड़ा जाए। एएसपी ऋषिकेश मीणा के आश्वासन के बाद ही जाम खत्म हो गया।

आज दर्ज हो सकती है देवेंद्र पर FIR

मामले में मंगलवार को पुलिस सिरोल थाने में देवेंद्र पाठक उर्फ बैटल पर खुदकुशी के लिए उकसाने का मामला दर्ज कर सकती है। पुलिस उसका आपराधिक रिकॉर्ड भी खंगाल रही है। फिलहाल देवेंद्र पत्नी और बच्चों समेत गायब है। पुलिस उसकी लोकेशन के आधार पर तलाश कर रही है।

एएसपी ऋषिकेश मीणा का कहना है कि गंभीरता से मामले की जांच की जा रही है। आरोपी की तलाश में तीन अलग-अलग टीम लगी हैं। निष्पक्षता से जांच करने और आरोपी को जल्द पकड़ने का आश्वासन दिया गया है।

More from Fast SamacharMore posts in Fast Samachar »
More from GwaliorMore posts in Gwalior »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: