Press "Enter" to skip to content

भाजपा सरकार पर साधा निशाना अखिलेश यादव ने। इलाहाबाद विश्वविद्यालय में छात्र की पिटाई के मामले में किया ट्वीट /#उत्तरप्रदेश

प्रयागराज

रात में तीन घंटे तक विश्वविद्यालय के गेट पर प्रदर्शन करते रहे छात्र।

इलाहाबाद विश्वविद्यालय में छात्र अभिषेक गुप्ता की पिटाई के मामले में सियासत तेज हो गई है। चीफ प्रॉक्टर व असिस्टेंट प्रोफेसर द्वारा छात्र को मारने का मामला बढ़ता जा रहा है। साेमवार को अभिषेक गुप्ता की पिटाई व पैंट उतरवाने का आरोप लगाते हुए सैकड़ों की संख्या में छात्र विश्वविद्यालय के गेट पर धरने पर बैठ गए और करीब तीन घंटे तक चक्का जाम कर नारेबाजी करते रहे। सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने इस मामले में भाजपा सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने दैनिक भास्कर की खबर को अपने एक्स (पूर्व में ट्वीट) अकाउंट पर पोस्ट करते हुए भाजपा को घेरा है।

आइए, जानते हैं अखिलेश यादव ने अपने एक्स अकाउंट पर क्या पोस्ट किया है..

अखिलेश ने लिखा “भाजपा राज में विश्वविद्यालयों में रैगिंग से भी बदतज हालात हैं। इलाहाबाद विश्वविद्यालय के हालिया मामले में असिस्टेंट प्रोफेकर व कुछ अन्य विवि कर्मियों द्वारा एक छात्र की पैंट उतरवाने, मारने-पीटने व बेइज्जत किए जाने का बेहद अपमानजनक और अति गंभीर तथा संवेदनशील मामला सामने आया है। इस घटना से आहत छात्र द्वारा कार्रवाई न किए जाने की बात की है। केंद्रीय विवि होने के नाते महामहिम राष्ट्रपति जी के स्तर पर इसका संज्ञान लिया जाए और तुरंत दंडात्मक कार्रवाई हो। छात्रों के बीच पनपते आक्रोश को निष्पक्ष जांच कराकर शांत करने की जिम्मेदारी से सरकार भाग नहीं सकती है।” अखिलेश यादव के इस पोस्ट के साथ दैनिक भास्कर की खबर को भी लगाया गया है।

यह पोस्ट अखिलेश यादव का है।

यह पोस्ट अखिलेश यादव का है।

छात्र ने दी आत्महत्या करने की चेतावनी

पीड़ित छात्र अभिषेक गुप्ता ने 43 सेकेंड का अपना वाीडियो वायरल किया है। जिसमें वह रोते हुए अपनी आपबीती बताता है। वह कहता है “मेरा नाम अभिषेक कुमार गुप्ता है। मुझे प्रॉक्टर व अतुल नारायण (असिस्टेंट प्रोफेसर) द्वारा प्राक्टोरियल ऑफिस बुलाया जाता है और मुझे मारा जाता है। मेरा पैंट खुलवाया जाता है, मेरे साथ बदमीजी करते और अश्लीलता करते हैं। मुझे गलत तरीके से छूते हैं और मां-बहन की गालियां देते हैं। मैंने इनके खिलाफ एंटी रैगिंग का मामला भी दर्ज कराया था कि यह मेरे साथ कुछ भी कर सकते हैं लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई.. मैं बहुत आहत हूं, मैं आत्महत्या कर सकता हूं।” यह वीडियो वाट्सएप ग्रुपों में वायरल होते हुए सैकड़ों की संख्या में छात्र विश्वविद्यालय पहुंच नारेबाजी करने लगेे।

जानिए, क्या था पूरा मामला

दरअसल आज से 10 दिन पहले एसएसएल हॉस्टल के छात्रों ने हॉस्टल के असिस्टेंट सुप्रिडेन्ट अतुल नारायण सिंह के ऊपर 500 रुपये मेंटेनेंस के नाम पर लेने का आरोप लगाया था। छात्रों ने इसका ग्यापन रजिस्ट्रार को भी सौंपा था। इसी बात को लेकर एमए के छात्र अभिषेक गुप्ता को आज बुलाया गया था। आज सोमवार को जब छात्र अभिषेक वहां पहुंचा तो उसे मारापीटा गया।

अभिषेक का आरोप है कि चीफ प्रॉक्टर राकेश सिंह, डिप्टी प्रॉक्टर विवेक द्विवेदी व अतुल नारायण सिंह ने उसे बेरहमी से पीटा और कपड़े भी उतरवाए। आरोप है इलाहाबाद विश्वविद्यालय में तैनात इंचार्ज विनय सिंह द्वारा भी पीटा गया।

More from Fast SamacharMore posts in Fast Samachar »
More from उत्तरप्रदेशMore posts in उत्तरप्रदेश »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: