Press "Enter" to skip to content

मंत्री मंडल में शामिल होने की दौड़ में चारों विधायक, दिल्ली में केंद्रीय मंत्री सिंधिया से मिले / Shivpuri News

शिवपुरी: विधायक बनने के बाद अब मंत्री पद हासिल करने के लिए मध्यप्रदेश के विजयी प्रत्याशियों की और से मंत्री बनने के प्रयास शुरू कर दिए गए हैं। इसी क्रम में कोलारस विधायक महेंद्र यादव को मंत्री मंडल में शामिल किए जाने की सिफारिश लेकर कोलारस अंचल के कई भाजपा नेताओं ने दिल्ली पहुंचकर केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से मुलाकात की। जहां उन्होंने कोलारस विधायक महेंद्र यादव को मंत्रिमंडल में शामिल करने की सिफारिश की।

बता दें कि जिले की पांचों विधानसभाओं में सबसे अधिक और चंबल अंचल में तीसरे स्थान पर अधिक मत प्राप्त करने वाले विधायक महेंद्र यादव हैं जिन्होंने 50000 से अधिक मतों से विजय होकर अपने निकटतम प्रतिद्वंदी को हराया है यही वजह है की महेंद्र यादव को मंत्री पद दिए जाने की बात वरिष्ठ नेताओं के समक्ष रखी जा रही है। केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के पास सिफारिश लेकर पहुंचे नेताओं में कल्याण सिंह यादव मंडल अध्यक्ष बदरबास, भरत सिंह चौहान जनपद अध्यक्ष कोलारस, योगेंद्र रघुवंशी बंटी पूर्व जिला पंचायत सदस्य, हरिओम रघुवंशी, अवध बोहरे रन्नौद भाजपा मंडल अध्यक्ष, ओपी भार्गव, श्रीनिवास धाकड़, सोनू राजावत, हरिशंकर धाकड़,नबल सिंह सोलंकी, बंटी सिकरवार सहित अन्य लोग शामिल हैं।

मंत्रिमंडल के दोनों मंत्री इस बार रेस से हुए बाहर

बता दें शिवपुरी जिले की पांच विधानसभाओं में 2018 के परिणामों के बाद भाजपा सरकार में शिवपुरी से विधायक यशोधरा राजे सिंधिया को केबिनेट मंत्री बनाया गया था वहीं सिंधिया समर्थक एवं पोहरी विधायक सुरेश धाकड़ को राज्य मंत्री बनाया गया था। इस बार 2023 का विधानसभा चुनाव खेल मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने नहीं लड़ा और पोहरी विधानसभा से चुनाव लड़े सुरेश धाकड़ को 49,481 वोटों से बड़ी हार का सामना करना पड़ा। राज्य मंत्री सुरेश धाकड़ मतों के हार के मामले में जिले में दूसरे स्थान पर जबकि ग्वालियर चंबल संभाग में चौथे स्थान पर रहे थे। इस बार दोनों ही मंत्री मैदान से बाहर हैं।

चारों विधायकों की मंत्री बनने की आस, कारण साफ

बता दें कि जिले की पांच विधानसभाओं में चार पर भाजपा ने जीत दर्ज कराई है। सभी चारों विधायकों की जीत की अलग ही कहानी है जो बताती हैं कि उन्हें सरकार के मंत्री मंडल में शामिल किया जाए। बात करें शिवपुरी विधानसभा से रिकॉर्ड जीत दर्ज कराने बाले विधायक देवेंद्र जैन बन गए है उन्होंने 43,030 वोटों से जीत दर्ज कराई। जीत का अंतर शिवपुरी विधानसभा में 90 के दशक से अब तक की सबसे बड़ी जीत है।

सोमवार को दिल्ली में केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से जिले के चारों विधायक मिलने पहुंचे।
इसी प्रकार कोलारस से भाजपा विधायक बने महेंद्र यादव ने 50,973 मतों से रिकॉर्ड मतों से जीत दर्ज कराई है। उनकी 90 के दशक से कोलारस में अब तक की सबसे बड़ी जीत है। करैरा विधानसभा ने वर्ष 2013 के बाद 2023 में कमल खिला है लंबे इन्तजार के बाद रमेश खटीक ने भाजपा की और से जीत दर्ज कराई है। बता दें 2008 में रमेश खटीक ही भाजपा की ओर से चुनाव जीते थे इसके बाद से करैरा सीट पर कांग्रेस का कब्जा था।

पिछोर विधानसभा सीट वर्षों गुजर जाने के बाद भाजपा के पाले में गई है। बता दें 1990 में आखरी बार भाजपा की और से लक्ष्मी नारायण गुप्ता चुनाव जीते थे इसके बाद लगातार पिछोर सीट पर कांग्रेस का कब्जा रहा। 2023 विधानसभा का चुनाव जीते भाजपा प्रत्याशी प्रीतम लोधी भी पिछले दो बार से हार का सामना कर रहे थे। लेकिन इस बार उन्हें जीत हासिल हुई और लंबे अंतराल के बाद भाजपा के खाते पिछोर की सीट जुड़ी।

More from Fast SamacharMore posts in Fast Samachar »
More from ShivpuriMore posts in Shivpuri »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: