Press "Enter" to skip to content

वन भूमि पर लहराती सरसों की फसल: जंगली जानवरों को रोकने के लिए कर दी गई खैर के पेड़ों से तार फेंसिंग / Shivpuri News

शिवपुरी के बदरवास वनपरिक्षेत्र के गणेशखेड़ा सब रेंज की सोनपुरा में बीट के जंगल में सरसों की लहराती खेती फोटो-वीडियो सामने आए हैं। जहां सैकड़ों बीघा वन भूमि पर आसपास के ग्रामीणों ने कब्जा कर उक्त जमीन पर न सिर्फ खेती की बल्कि जंगली जानवरों को रोकने के लिए सैकड़ों की संख्या में खड़े खैर के पेड़ों को काटकर फसल को बचाने के लिए तार फेंसिंग भी कर दी गई।

जानकारी के मुताबिक सोनपुरा में बीट के जंगल के कक्ष क्रमांक 1215, 1211, 1214 में बड़े क्षेत्र में पहले जंगल को काटकर जमीन को समतल किया गया और फिर बाद में वन भूमि पर कृषि उपयोग के लिए बनाते हुए ग्रामीणों ने खेती करना भी शुरू कर दिया।

इतना ही नहीं फसल उगने के बाद जंगल में सैकड़ों खैर के पेड़ों को काटकर जंगली जानवरों को खेतों में जाने से रोकने के लिए। खैर के पेड़ों के जरिए तार फेंसिंग भी कर दी गई। खास बात है कि इसके बावजूद वन विभाग को इसकी भनक तक नहीं लग सकी या फिर जंगल पर अतिक्रमण मिलीभगत के चलते संभव हो सका।

इस मामले डीएफओ सुधांशु यादव का कहना है कि कुछ ग्रामीणों ने पहले से उक्त जमीन पर कब्जा किये हुए हैं जिसके द्वारा खेती की जा रही है उन्हें नोटिस जारी किए गए हैं। जल्द ही वन भूमि को अतिक्रमण मुक्त करा लिया जाएगा। इसके साथ ही किसी भी प्रकार से नए कब्जे को अब वन विभाग होने नहीं देगा।

More from Fast SamacharMore posts in Fast Samachar »
More from ShivpuriMore posts in Shivpuri »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: